Dard Bhari Shayari

अजीब सा दर्द है इन दिनों यारों , न बताऊं तो ‘कायर’, और बताऊँ तो ‘शायर’...✍️ ~~भाई का छोटा भाई~

दुआओं में बहुत ताकत है किसी ने सच कहा , कल मैं बुरी तरह से गिरा और जिन्दा बच गया....✍️ ~~भाई का छोटा भाई~

कभी रात भर जगाया और कभी थका कर सुला दिया , दर्द को जितना छिपाया उतना ही हमको रुला दिया...✍️ ~~भाई का छोटा भाई~

khuwahise bhot thi es dil ki wakt ki dalilo ne unhe adhura bna diya shikayat krte bhi to kis se jab apno ne hi jab apno ne gair samjh kr thukra diya

Jyada kuch nhi manga tha tujhse - e- jindagi do pal ke sukoon ke liye puri jindagi kachain gawa diya

Koi aaya is kdr jindgi me, jindgi rangeen bn gyi, kuch pal gujare aur yaade haseen bn gyi, na aisa pyar hua na aisa lagav, mere sukh dukh ka sth bn gyi, chle gye vo fr is kdr, aakho me aasu aur dil me gm dekr, ki jindgi fr vilin si ho gyi....

क्या लिखु मैं अपने बारे मे ये ज़िन्दगी नही है किसी काम की , छुट्टी भी मिली तो नाम की... ✍️ ~~भाई का छोटा भाई~

किसी के मतलब का नहीं हूं, शायद इसलिए बुरा हूं..📝

लोग कहते हैं कि प्यार का दर्द मीठा होता है, तो आंख से निकला आंसू इतना नमकीन क्यों होता है?

यादें अगर आंसू होती तो चली जाती, यादें अगर लिखावट होती तो मिट जाती, यादें जिंदगी में बसा वह लम्हा है... जो लाख कोशिशों के बाद भी लफ्जों में नहीं सिमट पाती....!!

मेरी ज़िन्दगी का सबसे बड़ा रोग , हम ये करेंगे तो क्या सोचेगे लोग.... ✍️ ~~भाई का छोटा भाई~

🥃🍷🚬 लगता है महफिल में उतरना पड़ेगा दुबारा , कुछ लोग भूल गए हैं अंदाज हमारा....✍️ ~~भाई का छोटा भाई~

गमों की व्याख्या क्या लिखूं मैं.... गम तो मुझसे है , मैं गम मे नही...✍️ ~~भाई का छोटा भाई~

मै अपने अधूरे सपने में आज भी मदहोश हूँ , स्वार्थ नहीं था आपना कोई इसीलिए खामोश हूँ...✍️ ~~भाई का छोटा भाई~

ज़िंदगी के तजुर्बे ने एक बात सिखलाई है , नया दर्द ही पुराने दर्द की दवाई है....✍ ~bhai Ka Chhota bhai