Dard Bhari Shayari

Posted On: 02-07-2020

Jaana tha to chale jaate u kyu majhdhaar me chhod diya... Ab to na jeete ji jeete hain aur na hi khush reh paate hain..

Posted On: 02-07-2020

Ae zindagi tujhe chahaa tha humne... E zindagi tujhe jeena chahaa tha humne... kya maanga tha kya mila humein... Yu is qadar door to na rehna chaaha tha humne...

मेरी ये अदा दुनिया को रास नहीं आई दिल तो टूटा है पर आवाज़ नहीं आई..

सीख ली जिसने अदा गम में मुस्कुराने की, उसे क्या मिटायेंगी गर्दिशे जमाने की…

कास हम तेरे करीब आए न होते । दिल में दर्द जगाए न होते। कुछ दिन और जी लेते अगर हम ने आस्तीन में साँप बसाए न होते।

कभी दिल कभी शम्मा को जला के रोए, तेरी याद को दिल से लगा के रोए, रात की गोद में जब सो गई दुनिया सारी, चाँद को तेरी तसवीर बना के रोए!!

कितने दूर चले जाते हैं वो लोग, जिन्हें हम जिंदगी समझकर कभी खोना नहीं चाहते....

टूट गया दिल पर अरमां वही है, दूर रहता हूं फिर भी प्यार वही है.. जानता हूं कि मिल नहीं पाऊंगा, फिर भी इन आंखों में प्यार वही है!!

Bahut Chupha kar rakha tha! Ye Teri mohbbat ka Raj sabse!! Teri yaad aate hi ye ask! Sab byaan Ker dete hai.....!!

दर्द देने का अंदाज कुछ ऐसा है, दर्द देकर कहते हैं हाल कैसा है... जहर देकर कहते हैं अब पीना होगा, जब पी लिया तो कहते हैं अब जीना होगा!!

Posted On: 25-05-2020

Tere naam se shuru hua ye safar, Tujh pe hi thahar gaya..! Yaadein bhi teri, dard bhi tera, har pamha tujh pe thahar gaya..!

याद आएगी हर रोज मगर तुझे आवाज ना दूंगा, लिखूंगा तेरे लिए हर गजल मगर तेरा नाम ना लूंगा!!

नाम देने से कौन से रिश्ते सॅवर जाते हैं, जहां रूह न मिले दिल बिखर जाते हैं!

कौन सा जख्म था जो ताजा न था, इतना गम मिलेगा अंदाजा ना था, आप की झील सी आंखों का क्या कसूर, डूबने वाले को ही गहराई का अंदाजा न था!

शौक से तोड़ो दिल मेरा, मैं क्यों परवाह करूं... तुम ही तो रहते हो इसमें, अपना ही घर उजाडो.sk.