Friendship Shayari

मेहफिल मैं कुछ तो सुनाना पडता है, ग़म छुपाकर मुस्कुराना पडता है, कभी उनके हम भी थे दोस्त, आज कल उन्हे याद दिलाना पडता है।

नाजुक सा दिल कभी भुल से ना टूटे, छोटी छोटी बातो से आप ना रूठे, थोडी सी भी फिकर है अगर आपको हमारी, तो कोशिश करना की ये दोस्ती कभी ना टूटे।

दिल की बात छुपाना आता नही, किसी का दिल दुखाना आता नही, आप सोचते है हम भूल गए आपको, पर कुछ अच्छे दोस्तो को भूलना हमको आता नही.

कुछ नहीं है आज मेरे शब्दों के गुलदस्ते में, कभी कभी मेरी खामोशियाँ भी पढ लिया करो…!

मिलने आयेंगे हम आपसे ख्वाबों में,ये ज़रा रौशनी के दिये बुझा दीजिए, अब नहीं होता इंतज़ार आपसे मुलाकात का,ज़रा अपनी आँखों के परदे तो गिरा दीजिए ।।

जंजीर कभी तड़का-तड़का, तकदीर जगाई थी हमने ! हर बार बदलते मौसम पर, उम्मीद लगाई थी हमने !! जंजीर कटी, तकदीर खुली, पर अभी ये अंखिया प्यासी है ! तेरा प्यार कहाँ जाकर बरसे, हर घाट गगरिया प्यासी है !!

Wat I Did Was Foolish & Impulsive If I Cud Take It All Back I'd Do Dis So Instant I Truly Didn't Mean 2 Hurt U In Any Way I'm Sorry 4 Hurting U.

“Life can give us a number of Beautiful Friends!” But.. “Only True Friends can give us a Beautiful Life…!!” One of my true friend is ‘U’.

Best lines said by a friend “I cannot promise to solve all ur problems but I can only promise that I will never let u face them alone”.

Frndshp is nt a word, Nt merely a relatnshp. Itz a silent promise sayin,”I was”,”I am”&”I wll b”…

One of the most beautiful qualities of true friendship is to understand and to be understood....!!!

Hamare sher sun kar ke jo khamosh itna hai khuda jaane gurur-e-husn me madhosh kitna hai kisi pyaale se pucha hai surahi ne sabab may ka jo khud behosh ho keise bataye hosh kitna hai..

Maangi thi jab humne dua rab se, Dena mujhe wo dost ho jo alag sabse, Usne hume mila diya aapse aur kaha Sambhaalo inhe yeh anmol hai sab se

Dhaltee Huyi Shaam Sey Ab Darr Lagtaa Hain, Ishq K Anjaam Sey Ab Darr Lagtaa Hain, Jabse Milee Hain Bewafaai Hume Ishq Me, Tabse Ishq K Naam Se B Ab Darr Lagtaa Hain!

Jaam Par Jaam Peeney Kaa Kya Faayda, Shaam Ko Pee, Subah Tak Utar Jaayegi, Arre Peeni Hi Hai Toh 2 Boond Dosti Ki Pee, Saari Zindagi Phir Bas Nashe Me Hi Guzar Jaayegi!