Anmol Vachan

में एक सड़क की तरह बनता चला जा रहा हूँ , तू उस धूल की तरह किनारा ले रही है |

Posted On: 23-12-2022

देश की प्रगति में किसानों का योगदान सबसे बड़ा है। किसान दिवस के अवसर पर हम सभी अन्नदाताओं का आभार व्यक्त करते हैं और उनकी कड़ी मेहनत और दृढ संकल्प की भावना को नमन करते हैं। #KisanDiwas #Farmers #Agriculture #FarmersOfIndia #Farming

Posted On: 22-12-2022

मुनाफा का तो पता नहीं लेकिन बेचने वाले तो यादों को भी कारोबार बना कर बेच देते है

Posted On: 19-12-2022

करेले से कड़वे लोग मुसीबत में काम आ जाते हैं और शक्कर से मीठे लोग अक्सर समय पर धोखा दे जाते हैं 😊 Thank you so much everyone God bless us all 🙏❤️

Posted On: 19-12-2022

प्यार की चाँदनी में खिलते हैं दश्त-ए-इंसानियत के फूल हैं हम 🙏🙏 सुप्रभात 🙏🙏

Posted On: 18-12-2022

Posted On: 18-12-2022

जालिम वहीं पैदा होता है जहां बुजदिल और कायर लोग रहते हैं। सुप्रभात

Posted On: 18-12-2022

इंसान कितना भी अमीर क्यों न हो जाए... तकलीफ बेच नही सकता और सुकून खरीद नही सकता ...।

Posted On: 17-12-2022

♥️तेरी याद ना आए वो तन्हाई किस काम की । बिगड़े रिश्ते ना बना दे वो खुदाई किस काम की। बेसक हमे जाना है अपनी मंज़िल तक, लेकिन जहा से अपने ना दिखाई दे वो उच्चाई किस काम की।♥️

Posted On: 17-12-2022

बात हीरा,बात मोती और बात मर्दों की शान होती हैं। बात से बात नहीं, काम की बात बड़ी मुश्किल से होती हैं। और बात भी उसी की होती हैं, जिसमे कोई बात होती है।

Posted On: 16-12-2022

Posted On: 26-11-2022

समझता कोई नहीं है समझाते सब हैं..... 💯

Posted On: 23-11-2022

कैसे भरोसा करू इंसानियत पर आज कल तो इंसान दोस्त तक उसकी जेब ओर ओकात देख कर बनाता है ✍️✍️ Ravi sharma (mravi)

Posted On: 23-11-2022

कैसे भरोसा करूं इंसानियत पर आज कल तो इंसान दोस्त तक उसकी जेब ओर ओकत देख कर बनाता है

Posted On: 31-10-2022

दिल में प्रेम को बसाओ, प्रेम में रम जाओ फिर राधे-श्याम को देखने वृंदावन आओ.