Attitude Shayari

Posted On: 15-07-2020

याद भी तेरी ऐसी आती हैं जो भुलाए ना भूले जाती हैं, नफ़रत भी इतनी कि मैंने तुमसे जो रोज रात को ही आती हैं,

weight to chori kare se yaroin apne to diloin par raj kiya karte hai

Posted On: 13-06-2020

Main सिर्फ 2 चीजो Se प्यार Karata हूँ, Ek तो Maa जिसने Mujhe जन्म दिया, और Ek वो "Pagli" जिसने सिर्फ Mere लिए जन्म Liya ❗

Posted On: 13-06-2020

Style‬ ‪ऐसा Karo की ‪दुनिया देख़ती‬ Jaaye, और ‪यारी‬ ऐसी Karo की Duniya ‪जलती जाए❗

logoin ne ek din mujhse puchha ki jamane mein tumne apne kitne dushman bana rakhe hain to ankda tab bhi lakhoin ke par hai jab ki hajaroin dushman to hamne apne dost bana rakhe hain

अब जंग होगी कोई वारदात नहीं। वो प्लान तो रोजाना बनाते है हमें खत्म करने का । पर खत्म कर लें इतनी भी उनकी औकात नहीं।

हम जहां भी जाते है वहां दो चार दुश्मन तो आ ही जाते हैं। वो हमे छा ने से तो बहुत रोकते है पर हम फिर भी लोगों के दिलो दिमाग पर छा ही जाते है।

If you hate us So who will show your respect If you forget your guru then who will perform miracles. You attack us again and again, if we want to erase your existence at once from the world, but we leave you thinking every time that if you kill everyone, then who will perform your last rites.

जब कोई लड़की को खुद पर गुरूर हो जाए। वो अपने गुरुर में आप से दूर हो जाए। तो उसके पीछे देवदास मत बनो यारों बल्कि कुछ ऐसा करो जिन्दगी में अपनी कि वो खुद आपसे मिलने पर मजबूर हो जाए।

Wo husn pe apne naj kare To ishqe tamanna kaun kare Dil ko apne samjha lenge Har waqt khushamad kaun kare

Mana ki wo naraj hote hai To manana chhod de kya Hum jante ha teri galiyon mein Kuchh log dushmani mante hai hamse To teri galiyon mein aana chhod de kya

Ye ladkiyain itni khubsurat to nahi hoti jitna khud par gurur Karti hai Chamak ka pata nahi Lekin khud ko kohinoor samjhti hai Galtiyain to khud Karti hai Lekin ladkion ka kasoor samjhti hai

ये लड़कियां हुस्न वाली हैं जनाब अदालत भी इन्हीं की होती है इसी लिए लोग इनका एहतराम करते है लेकिन कम तो हम लड़के भी नहीं होते क्योंकि अदालत बेशक लड़कियों की होती है पर जजमेंट हमारे जज साहब करते है हुस्न वालों की क्या औकात है हमें तो अदालत वाले भी झुककर सलाम करते हैं

Posted On: 17-05-2020

Kuch bhi nahi tumhare paas par phir bhi guroor itna hai..! Dokhe mai ho kisi aur ke, phir bhi khu pe yakeen tumhe itna hai..! Nahi jaante ho tum kis raste par jaa rahe ho ae dost, Guroor mai hi mite jaa rahe ho, samajh jaao ab bhi bas itna hai..!

Usne kya kya kosisein nahi ki mera sar jhukane ki Linkin parwatoin ka sar kaoin jhuka paya hai aaj tak