Latest Shayari

Posted On: 28-01-2020

Posted On: 28-01-2020

वो हमसे दूर होकर भी खुश हैं, तो उन्हें मोहब्बत कैसी । और अब हम उन्हें खुश भी ना देखें, तो उनसे मोहब्बत कैसी ।

Posted On: 27-01-2020

Ek nadhi ko due kinar Bhayera bacheko chu Timro yad ma ajha ni Royera baseko chu😭

محبت خیر چھوڑے... ندامت تو ہوتی ہوگی ؟؟

हम वो शिकंजा हैं जो कोई कस नहीं सकता ... हमारे देश की सरहदों को कोई डस नहीं सकता , अगर है हिम्मत किसी में तो आ जाए ... कसम हिन्दुस्तान की वो जिंदा बच नहीं सकता ! लेखक :- मनीष अहिराना (भोजपुरी गीतकार)

सुधर जा ऐ पाकिस्तानी... वर्ना नक्शे से मिट जाएगा , हिन्दुस्तान जिंदाबाद ... तेरा रोम रोम चिल्लाएगा , तेरी आने वाली पीढ़ी मेरे मुल्क की तलवे चाटेगी ... मत उलझना हिन्दुस्तानी से तेरी मरी मां भी डाटेगी !

सुधर जा ऐ पाकिस्तानी वर्ना नक्शे से मिट जाएगा .... हिन्दुस्तान जिंदाबाद तेरा रोम रोम चिल्लाएगा ....

अर्खुब भरे दर्द ज़मानें रह गए... हम ईंशानीयत का फर्ज निभाने में रह गए , तुम सब चुपके से आकर हमारे घर में आग लगाते रहे ... और हम तुम्हारे ही घर कि आग बुझाने में रह गए !

साला हर पाकिस्तानी बोलता है की जिंदा जला दुंगा... भाग तेरी मॉ की .... जलते हुए दिये को परवाने क्या बुझाएंगे _ और जो मुर्दो को नहीं जला सकते वो जिंदो को क्या जलाएंगे । मेरा हिंदुस्तान जिंदाबाद था, है और रहेगा ...

मैंने तुझसे प्यार किया अपनी जान समझ कर और तूने मुझे ठुकरा दिया एक पत्थर समझ कर ।

क्यो करते हो बलात्कार अपने देश की ही बेटियों का अरे चढ़ जाओ गे फासी पर लग जाएगा जुर्माना 7 लाख तक ।

क्यो लड़ते हो एक दूजे के लिए अरे लड़ना ही है अगर तो लड़ो अपनी मोहबतों के लिए जिस पर लड्कीया भी अपना दामन बिछा देंगी हम जैसे लड़को के लिए ।

क्यो मरते हो दफा 302 के लिए अरे मरना ही है तो मरो अपने इस वतन के लिए जिस पर ये भारत देश ओढा देगा तिरंगा तुम्हारे कफन के लिए ।

हम मरते नही तुम जैसी सनम बेवफा के लिए अरे मरना ही होगा तो मै मरूँगा अपने इस वतन के लिए जीसपर तुम जैसी लड्कीया अपना रूपट्टा ओढा देंगी हमारे कफन के लिए ।

किसी का दिल तोड़ना इतना आसान नही . तेल निकल जाता है अच्छे अच्छों का वही । ................