Latest Shayari

Ek zindagi ko kandhe par uthakar Ek zindagi ki raah par chal raha hoon Badalta waqt mujh ko badalta hai Aur log kahte hai main badal raha hoon

यु तो मोह्हबत की कितनी ही गलियों से निकले है हम लोहे जैसे मजबूत थे पर किसी एक की आग में बोहोत पिघले है हम

हमे किसीसे कोई जलन वालन नहीं होती .हमे किसीसे कोई जलन वालन नहीं होती बस ये पागल दिल डरता है तुम्हे खोनेसे

बंशी शोभित कर मधुर, नील जलद तन श्याम! अरुण आधार जनु बिम्ब फल, नयन कमल अभिराम! श्री कृष्ण जन्म उत्सव की हार्दिक शुभकामनाएं

Posted On: 30-08-2021

Posted On: 29-08-2021

बिना दर्द के आंसू बहाये नहीं जाते!! जहाँ प्यार न हो वहाँ रिश्तें निभाये नहीं जाते!!(स्मरण रहे अगर झुक जाने से रिश्ता मजबूत होता हैं तो वहाँ झुक जाना चाहिए और हर बार आपको ही झुकना पड़े तो वहाँ रूक जाना चाहिए!!)7759979220

Posted On: 28-08-2021

Jo pani se nahata he bo libaz badlta हे Or jo pasine se nahata he bo etihas badlta he

कलाई पर सजा के राखी माथे लगा दिया है चंदन सावन के पावन मौके पर मेरी प्यारी बहना को हैप्पी रक्षा बंधन

Time and distance means nothing between Brothers and Sisters. We are always in each other's heart.

Posted On: 16-08-2021

gaurav

Posted On: 16-08-2021

कभी ‌‍स्याही से भरा हुआ करता था यह कोरा कागज अब तो बस चंद छीटो की ही आश में है।