Latest Shayari

Kutte bhonkte hai.. Zinda hone ka ehsas dilane k liye, Jungle ka sanata.. Sher ki mauzudgi baya karta hai.

Posted On: 04-08-2016

रात की गहराई आँखों में उतर आई, कुछ ख्वाब थे और कुछ मेरी तन्हाई, ये जो पलकों से बह रहे हैं हल्के हल्के, कुछ तो मजबूरी थी कुछ तेरी बेवफाई.

Rehte hain Aas-Pass hi, Lekin sath nahi hote, kuchh log jalte hain mujhse, bas khaak nahi hote.

आँख उठाकर भी न देखूँ, जिससे मेरा दिल न मिले, जबरन सबसे हाथ मिलाना, मेरे बस की बात नहीं…

Posted On: 04-08-2016

हर भूल तेरी माफ़ की.. हर खता को तेरी भुला दिया.. गम है कि, मेरे प्यार का.. तूने बेवफा बनके सिला दिया|

Ulfat ka aksar yehi dastur hota hai, jise chaho wahi apne se dur hota hai, Dil tutkar bikharta hai is kadar jaise koi kanch ka khilona chur-chur hota hai.

हर बात में आंसू बहाया नहीं करते, दिल की बात हर किसी को बताया नहीं करते, लोग मुट्ठी में नमक लेके घूमते है.. दिल के जख्म हर किसी को दिखाया नहीं करते।

Bin Baat Ke Hi Roothne Ki Aadat Hai, Kisi Apne Ka Saath Paane Ki Chahat Hai, Aap Khush Rahe, Mera Kya Hai.. Mai To Aaina Hu, Mujhe Tootne Ki Aadat Hai..!

दर्द से दोस्ती हो गई यारों, जिंदगी बे दर्द हो गई यारों, क्या हुआ जो जल गया आशियाना हमारा, दूर तक रोशनी तो हो गई यारो।

किस हद तक जाना है ये कौन जानता है, किस मंजिल को पाना है ये कौन जानता है, दोस्ती के दो पल जी भर के जी लो, किस रोज़ बिछड जाना है ये कौन जानता है.!

Posted On: 04-08-2016

Ek bar mere dil mein aake apni mohabbat to dekho, Fir lautne ka irada hum tum pe chhod denge..

शायद फिर वो तक़दीर मिल जाये जीवन के वो हसीं पल मिल जाये चल फिर से बैठें वो क्लास कि लास्ट बैंच पे शायद फिर से वो पुराने दोस्त मिल जाएँ ।

दोस्ती अच्छी हो तो रंग़ लाती है दोस्ती गहरी हो तो सबको भाती है दोस्ती नादान हो तो टूट जाती है अगर दोस्ती सच्ची हो तो इतिहास बनाती है…..

Posted On: 04-08-2016

Humne Wafa Ki Rah Ko Asan Samajh Liya, Katon Ki Wadiyon Ko Gulistan Samajh Liya, Samajh Mein Kuch Nahi Aata, Hum Isko Aashiqui Kahein Ki Sadgi Kahein, Katil Ko Humne Apana Meharban Samajh Liya..

दोस्त को दोस्त का इशारा याद रहेता हे, हर दोस्त को अपना दोस्ताना याद रहेता हे, कुछ पल सच्चे दोस्त के साथ तो गुजारो, वो अफ़साना मौत तक याद रहेता हे|