Latest Shayari

दिल का ज़ख़्म अभी तक हर है आदमी अधूरा है कोई किसी के साथ नहीं मरता हर कोई अकेला ही मरा है फ़कीर बादशाह साब ( FAKEERA) Dil ka zakhm abhi tak hara hai Adami adhura hai Koi kisi ke saath nahi marta Har koi akela hi mara hai FAKEERA THE FAKIR BADSHAH SAAB

आज डॉक्टर कहता है हमारे दिमाग का कोई इलाज नहीं कल ज़माना कहेगा फकीरा दी फ़कीर बादशाह साब आपका कोई जवाब नहीं फ़कीर बादशाह साब ( FAKEERA) Aaj doctor kahta hai Hamare dimaag ka koi ilaaj nahi Kal zamana kahenga FAKEERA THE FAKIR BADSHAH SAAB Apka koi jawaab nahi FAKEERA THE FAKIR BADSHAH SAAB

जिसे भी फालतू और फुजूल बकवास सुननी हो वो जा सकता हैं गुलज़ार जावेद अख्तर या राहत इंदौरी की महफ़िल में ये दिल जलों की महफ़िल है यहां ज़ुबान पर भी वही आग है जो आग है दहेकते सिने में जो आग है सुलगते दिल में फ़कीर बादशाह साब ( FAKEERA) Jise bhi faaltu aur fuzool bakwaas Sunni ho Woh ja sakta hai gulzaar javed akhtar Ya rahat indori ki mehfil me Ye dil jalon ki mehfil hai Yahaan zubaan par bhi wohi aag hai Jo aag hai dahekte sine me Jo aag hai sulagte dil me FAKEERA THE FAKIR BADSHAH SAAB

हमारी शायरी पड़ने सुनने से भी लोग डरते है हमारी शायरी आईना है उसमे हकीकत नजर आती है लोग हकीकत से दूर भागते है फ़कीर बादशाह साब ( FAKEERA) Hamari shayari padne sunne se Bhi log darte hai Hamari shayari aaina hai Usme haqeeqat nazar aati hai Log haqeeqat se dur bhagte hai FAKEERA THE FAKIR BADSHAH SAAB

सच्चाई और मतलब से भरा हुआ होता है एक एक हरफ सारी दुनियां के शायर एक तरफ फकीरा दी फ़कीर बादशाह साब एक तरफ फ़कीर बादशाह साब ( FAKEERA) Sachchai aur matlab se Bhar huaa hota hai ek ek haraf Sari duniya ke Shayar ek taraf Fakeera the Fakir Badshah Saab Ek taraf FAKEERA THE FAKIR BADSHAH SAAB

हम सब कैदी है ये दुनिया कैदखाना है ना अपनी मर्झी से आना है ना अपनी मर्झी से जाना हैं फकिर बादशाह साब( FAKEERA) Hum sab kaidi hai Ye duniya kaid khana hai Na apni marzi se ana hai Na apni marzi se jana hai FAKEERA THE FAKIR BADSHAH SAAB

अय इंसान तू खुद को मिट्टी ना समझ तू कचरा हैं तू कूड़ा है आज जवानी पर इतरा ता है ज़िन्दगी क्या है उससे पूछ जो बूढ़ा है फ़कीर बादशाह साब ( FAKEERA) Aye insaan Tu khud ko mitti na samajh Tu kachra hai Tu kudaa hai Aaj jawaani par itra ta hai Zindagi kya hai ussey puch Jo budaa hai FAKEERA THE FAKIR BADSHAH SAAB

वोह हमारे हो ही नहीं सकते जब हम खुद हमारे हो नहीं पाए फ़कीर बादशाह साब (FAKEERA) Woh hamare Ho hi nahi sakte Jab hum khud Hamare ho nahi paaye FAKEERA THE FAKIR BADSHAH SAAB

गीरा गर मेरे सर पर पत्थर तो हस्ता क्या है ये ना भूल के तू भी उसी पहाड़ के साए में रहता है फ़कीर बादशाह साब ( FAKEERA) Gira gar mere sar par patthar To hasta kya hai Ye na bhool ke tu bhi Usi pahaad ke saaye mein rahta hai FAKEERA THE FAKIR BADSHAH SAAB

लोग क्या कहते हैं क्या सोचते है तू वो ना सोच वोह ना सुन तेरा दिल क्या चाहता है क्या कहता है तू बस अपने दिल की आवाज़ सुन फ़कीर बादशाह साब ( FAKEERA) Log kya kahte hai kya sochte hai Tu woh na soch woh na suunn Tera dil kya chahta hai kya kahta hai Tu bas apne dil ki awaaz suunn FAKEERA THE FAKIR Badshah Saab

आदमी अच्छा था सुनने के लिए मरना पड़ता है फ़कीर बादशाह साब ( FAKEERA) Adami achcha tha Sunney ke liye Marna padta hai FAKEERA THE FAKIR BADSHAH SAAB

Posted On: 22-07-2020

Log Kahetien Hai Ki Jeena Marna Apne Hatho Mein Nahi Hai To Pyar Me Q Aisa Hota h Ki Log Til Til Marte Hai #SAGAR_R #BOXER🥊✍️

ये सब पैसे की महेरबानी है मेरे यारों जो लोग झुक झुक कर सलाम करते है फ़कीर बादशाह साब ( FAKEERA)

ये दुनियां क्या है मौत का नगर है यहां आदमी का अंजाम या तो चिता है या तो कबर है फ़कीर बादशाह साब (FAKEERA)

Posted On: 21-07-2020

किसि रोज हम जरूर मिलेङ्गे गलिके किसि मोडपे जरूर मिलेङ्गे ईस जनममे नहि मिलपाए हम पर दुसरे जनममे हम जरूर मिलेङ्गे ।।