Latest Shayari

तुम्हारी आँखों की तौहीन है जरा सोंचो, तुम्हारा चाहने वाला शराब पीता है.........!!!

शायरी इक शरारत भरी शाम है, हर सुख़न इक छलकता हुआ जाम है, जब ये प्याले ग़ज़ल के पिए तो लगा मयक़दा तो बिना बात बदनाम है….....!!!

किसी ने ग़ालिब से कहा, सुना है जो शराब पीते हैं उनकी दुआ कुबूल नहीं होती, ग़ालिब बोले: "जिन्हें शराब मिल जाए उन्हें किसी दुआ की ज़रूरत नहीं होती".....!!!

सुना है मोहब्बत कर ली तुमने भी, अब किधर मिलोगे, पागलखाने या मैखाने…...!!!

ना ज़ख्म भरे, ना शराब सहारा हुई, ना वो वापस लौटे, ना मोहब्बत दोबारा हुई.......!!!

नशा हम किया करते है इलज़ाम शराब को दिया करते है, कसूर शराब का नहीं उनका है जिनका चहेरा हम जाम मै तलाश किया करते है…..!!!

Posted On: 29-12-2023

बहकने के लिए तेरा एक खयाल काफी है, हाथो मे हो फ़िर से कोई जाम ज़रूरी तो नही......!!!

शराब और इश्क़ कि फितरत एक सी है, दोनों में वही नशा, वही दिलकशी, एक दिन तौबा करो उनसे, दुसरे दिन फिर वही दीवानगी, फिर वही खुदखुशी.....!!!

मैखाने से दीवानों का रिश्ता है पुराना, दिल मिले तो मैखाना, दिल टूटे तो मैखाना…...!!!

यार तो अक्सर मदिरालय मे हीं मिलते हैं, वर्ना अपने तो मंदिर में भी मुँह मोड़ते हैं…......!!!

कुछ तो शराफ़त सीख ले, ए इश्क़, शराब से, बोतल पे लिखा तो है, मैं जान लेवा हूँ.......!!!

मैखाने मे आऊंगा मगर…पिऊंगा नही साकी, ये शराब मेरा गम मिटाने की औकात नही रखती…...!!!

प्यार के नाम पे यहाँ तो लोग खून पीते है, मुझे खुद पे नाज़ है की मैं सिर्फ शराब पीता हु.......!!!

लगता है बारिश भी मैखाने जाकर आती है, कभी गिरती, कभी संभालती, तो कभी लड़खड़ा कर आती है........!!!

मै तोड़ लेता अगर तू गुलाब होती, मै जवाब बनता अगर तू सबाल होती, सब जानते है मै नशा नही करता, मगर मै भी पी लेता अगर तू शराब होती.......!!!