Bewafa Shayari

आज हम उनको बेवफा बताकर आए हैं, उनके खतो को पानी में बहाकर आए हैं, कोई निकाल न ले उन्हें पानी से.. इस लिए पानी में भी आग लगा कर आए हैं।

काश कि हम उनके दिल पे राज़ करते, जो कल था वही प्यार आज करते, हमें ग़म नहीं उनकी बेवफाई का, बस अरमां था कि... हम भी अपने प्यार पर नाज़ करते।

कहाँ से लाऊं वो शब्द जो तेरी तारीफ के क़ाबिल हो, कहाँ से लाऊं वो चाँद जिसमें तेरी ख़ूबसूरती शामिल हो, ए मेरे बेवफा सनम एक बार बता दे मुझकों, कहाँ से लाऊं वो किस्मत जिसमें तू बस मुझे हांसिल हो।

बेवफ़ाई का मुझे... जब भी ख़याल आता है, अश्क़ रुख़सार पर आँखों से निकल जाते हैं।

Bewafaon Ki Mahfil Lagegi Ai Dil-E-Jaana, Aaj Zara Waqt Par Aana Mehmaan-E-Khaas Ho Tum.

Ai Dost Kabhi Zikr-E-Judai Na Karna, Mere Bharose Ko Rusva Na Karna, Dil Mein Tere Koyi Aur Bas Jaaye To Bata Dena, Mere Dil Mein Rahkar Bewafai Na Karna.

उन्हें एहसास हुआ है इश्क़ का हमें रुलाने के बाद, अब हम पर प्यार आया है दूर चले जाने के बाद, क्या बताएं किस कदर बेवफ़ा है यह दुनिया, यहाँ लोग भूल जाते हैं किसी को दफनाने के बाद।

मत रख हमसे वफा की उम्मीद ऐ सनम, हमने हर दम बेवफाई पायी है, मत ढूंढ हमारे जिस्म पे जख्म के निशान, हमने हर चोट दिल पे खायी है।

हमारी तबियत भी न जान सके हमे बेहाल देखकर, और हम कुछ न बता सके उन्हें खुशहाल देखकर।

Kya Jano Tum Bewafai Ki Had Dosto, Wo Hamse Ishq Seekhti Rahi Kisi Or Ke Liye.

Posted On: 01-08-2019

Iraade nek the Varna moo pherna Hume bhi aata hai ...jazbaat the Varna baate bnana Hume bhi aata hai... Janaab pyaar tha, Varna khelna hume bhi aata hai...!!

Posted On: 07-07-2019

कुछ - कुछ EVM सी है वफादारी मेरी। -२ कुछ करे न करे बदनाम ही रहती है।।

Posted On: 07-07-2019

Posted On: 07-07-2019

Dil

Posted On: 07-07-2019

*...सपना है आॅखो में,,, मगर नींद कहीं और है।* *दिल तो हैं जिस्म में,,, मगर धड़कन💕 कहीं और है।।* *कैसे बयान करें अपना हाल - ए - दिल❤* *जी तो रहें हैं,,, मगर जिंदगी कहीं और है।*