Love Shayari

Posted On: 06-05-2020

सूरत के साथ-साथ अगर सुंदर आचरण भी हो तो प्यार का मजा ही कुछ और है!

Posted On: 06-05-2020

इस दिल की दास्ताँ भी बड़ी अजीब होती है, बड़ी मुश्किल से इसे ख़ुशी नसीब होती है, किसी के पास आने पर ख़ुशी हो न हो, पर दूर जाने पर बड़ी तकलीफ होती है।

Posted On: 04-05-2020

मेरे भाग्य में प्रेम नहीं है जिससे प्रेम हुआ वो किसी और का था!

Aesa nahi ki din nahi dhalta rat nahi hoti, Sab adhura sa lagta hai jab tumse bat nahi hoti

Kabhi Unki Yaad Aati Hai Kabhi Unake Khwaab Aate Hain, Mujhe Satane Ke Tarike To Dekho Unhen Behisaab Aate Hain.

Posted On: 04-05-2020

प्यार एक ऐसा समंदर है जिस में फंस कर कोई भी व्यक्ति निकल नहीं सकता।

Posted On: 03-05-2020

हमने भी किसी से प्यार किया था हाथो में फूल लेकर इंतजार किया था भूल उनकी नहीं हमारी थी क्योंकि प्यार उन्होंने नहीं हमने किया था

Posted On: 03-05-2020

इसी कश्मकश का नाम मोहब्बत हैं... आंखों में समंदर हो फिर भी प्यास रहती हैं ।

Posted On: 03-05-2020

कभी क़रीब तो कभी दूर हो के रोते हैं, मोहब्बतों के भी मौसम अजीब होते हैं।

Posted On: 03-05-2020

साँसों की माला में पिरो कर रखे हैं तेरी चाहतों के मोती अब तो तमन्ना यही है कि बिखरूं तो सिर्फ तेरे आगोश में।

Posted On: 03-05-2020

मेरी चाहतें आप से अलग कब हैं, दिल की बातें आप से छुपी कब हैं, आप साथ रहो दिल में धड़कन की तरह, फिर ज़िन्दगी को साँसों की ज़रूरत कब है।

Posted On: 03-05-2020

Peheli hi nazar mei, unse Ishq kar baithe hum Kya bataen, ki kis kadar kar baithe hum Prem Patra se unhe, haaledil bata baithe hum Khuda jane, ki unki raza kya hai aakhoo mei umeed liya, intezaar kaarte rahe hum BeIntehaan Ishq kiya tha unse, aur hamesha unhe se karte rahainge hum Itna kuch keh kar bhi, unse kuch keh na sake hum Ek hi toh Zindagi di thi Khuda ne oose bhi unke naam kar gaye hum

Posted On: 03-05-2020

नज़रें मिल जाएं तो प्यार हो जाता है, पलकें उठ जाएं तो इज़हार हो जाता है, ना जाने क्या कशिश है आपकी चाहत में, कि कोई अनजान भी हमारी ज़िन्दगी का हक़दार हो जाता है।

Posted On: 03-05-2020

अनजान ज़िन्दगी का हक़दार... नज़रें मिल जाएं तो प्यार हो जाता है, पलकें उठ जाएं तो इज़हार हो जाता है, ना जाने क्या कशिश है आपकी चाहत में, कि कोई अनजान भी हमारी ज़िन्दगी का हक़दार हो जाता है।

Posted On: 03-05-2020

इत्तेफ़ाक़ से ही सही मगर मुलाकात हो गयी, ढूंढ रहे थे हम जिन्हें उन से बात हो गयी, देखते ही उन को जाने कहाँ खो गए हम, वहीं से हमारे प्यार की शुरुआत हो गयी।