Latest Shayari

Posted On: 19-04-2020

में लिखता हूं शायरी वातावरण को देख कर।। में लिखता हूं शायरी वातावरण को देख कर।। अब वातावरण भी खुश हो गया है खुद को आईने में देख कर।। ।स्वच्छ भारत ।।

Mein Aur Kya Likhu Tere Liye Tujhe Dehkta Hu To Meri Sanse Tham Jati Hai Tujhe Se Itna Pyar Karta Hu Mein Ki Tu Kahe De To Abi K Abi JAAN De Du Main Tere Liye #SAGAR_R

Posted On: 18-04-2020

Mein Kya Likhta Hu Mein Kyun Likhta hu Aur Mein Kiske Liye Likhta Hu Mein Sirf Apna Dard Banya Karne K Liye Likhta Hu #SAGAR_R

Tere Liye Kya Likhu Tu To Meri Jaan Mein Basta hai Bhai Nahi Manta Hu Mein Tujhe Tujhe Hi Apna Jaan Manta hu....♥ 😘 ♥ #HAPPY_BIRTHDAY #BHAI_संजू #SAGAR_R

Posted On: 16-04-2020

Kaha Hai Tu Ek Bar Aza Na Kaha Hai Tu Ek Bar Aza Na Warna Jise Din mera JANAZA Nikelga Ushe Din Sab Aynge Kya Karegi Ushe Din Ake Tu Kya Karegi Ushe Din Ake Tu Mere JANAZA Ko Dhek V Nahi Paygi Tu Mere JANAZA Ko Dhek V Nahi Paygi Tu #SAGAR_R

Posted On: 16-04-2020

कहाँ जाऊंगा मैं तुम्हे छोड़कर, कि तुम्हारे बिना जब रात नहीं गुजरती, तो ज़िन्दगी क्या ख़ाक गुजरेगी।

Posted On: 16-04-2020

तुम्हारी मदहोश आँखों ने, मेरे दिल का सिस्टम ही तोड़ दिया, जब से तुमने आई लव यू है कहा मुझे, मैंने तब से पढ़ना लिखना ही छोड़ दिया !!!

Jinke Pass Aankh Nahi Hai Unhe Se Pucho Ki Unhone Apna Jannat Kaise Dekha #SAGAR_R

Jinke Pass Aankh Nahi Hai Unhe Se Pucho Ki Unhone Apna Jannat Kaise देकता #SAGAR_R

Posted On: 15-04-2020

Unko chahna ab humari aadat ban chuki hai.. Woh humare Naseeb me nehi ye jaan kar bhi muskura lete hai

Posted On: 14-04-2020

ना हवस तेरे जिस्म की ना शौक तेरी खूबसूरती का, बेमतलबी सा बन्दा हूँ बस तेरी सादगी पे मरता हूँ.

Posted On: 14-04-2020

एक उमर बीत चली है तुझे चाहते हुए, तू आज भी बेखबर है कल की तरह।

Posted On: 14-04-2020

मुकम्मल ना सही अधूरा ही रहने दो, ये इश्क़ है कोई मक़सद तो नहीं है।

हमें सीने से लगाकर हमारी सारी कसक दूर कर दो, हम सिर्फ तुम्हारे हो जाऐ हमें इतना मजबूर कर दो।

Posted On: 13-04-2020

💞: जी तो चाहता है हर इक उलझन पर इक चोट रख दूँ तेरी ज़ुल्फ़ें हटाऊँ और तेरी गर्दन पर अपने होंठ रख दूँ💞