Love Shayari

Posted On: 18-11-2020

नजर से दूर है.. फिर भी फिजा में शामिल हैं किसी के प्यार की खुश्बू हवा में शामिल है..!!

सून गेले खूप दूर मनात माझ्या विचारांचे उठले काहूर जेव्हा सगळे माझ्यापासून गेले खूप दूर

Posted On: 24-10-2020

आज सब जोड़,घटा,गुना,भाग कर दे, तू ऐसा कर मेरी मोहब्बत का हिसाब कर दे, ओर तूने आखिर क्यों भूखा रखा है पिंजरे का पंछी, अगर ये दिल से उतर ही गया है तो इसे आज़ाद कर दे

Posted On: 21-10-2020

भरोसे के एहसास पर जिंदा रहती है मोहब्बत, सांसो से तो सिर्फ जिस्म चला करते हैं.....!

Posted On: 18-10-2020

अपील करें, वकील करें, दलील करें, कुछ भी करें..... गर मामला दिल का है, तो फैसला उम्र कैद ही समझें....

Posted On: 16-10-2020

बहुत खूबसूरत हैं आँखें तुम्हारी; इन्हें बना दो किस्मत हमारी; हमें नहीं चाहिये ज़माने की खुशियाँ; अगर मिल जाये बस मोहब्बत तुम्हारी।

Posted On: 15-10-2020

tum meri khwais nhi hakkikat bn jao.... ek baar jaan maang ke dekho haste haste hi mar jau❣️❣️❣️

Posted On: 13-10-2020

रख सकूं अपने प्यार को खुश, किस्मत ही कहां इतनी अच्छी थी! बिछड़ के भी ना भूल सका, मोहब्बत ही इतनी सच्ची थी!!

Posted On: 11-10-2020

जी भर क देखू तुझे अगर गवारा हो, बेताब मेरी नज़रे हो और चेहरा तुम्हारा हो, जान की फिकर हो न जमाने की परवाह, एक तेरा प्यार सिर्फ और सिर्फ हमारा हो!

Posted On: 24-09-2020

दिल में कुछ अरमान जगे आँखों में नज़ारे हैं, गर्दिश में सितारे हैं पर आशिक़ हम तुम्हारे हैं, नींदों ने हड़ताल करी और यादों का हंगामा है, जगी हुई हैं आँखें पर इनमें ख्वाब तुम्हारे हैं।

Posted On: 23-09-2020

तेरी हर अदा मोहब्बत सी लगती है, एक पल की जुदाई मुद्दत सी लगती है पहले नहीं अब सोचने लगे है हम की, जिंदगी के हर लम्हे में तेरी ज़रूरत सी लगती है.

Posted On: 21-09-2020

वजह तो नफरतों में तलाक की जाती है, जो बेवजह हो जाए वो मोहब्बत कहलाती है!

Posted On: 19-09-2020

Tere Aane se Meri bikhri hui jindagi smbhal gayi😁 Tha kya mai phele aur tu ab mujhe kya bnagayi Na phele kisi ko itna chah 🤪 Na mai phele kisi le kiya itna tadpa Door hoke mujh se jitna tu tadpagayi 😛 -Shayar Kumar

Posted On: 15-09-2020

मोहब्बत तो हमेशा से आसान रही है, इसे जिस्म से जोड़कर लोगों ने पेचीदा बना दिया !!

Posted On: 13-09-2020

इश्क किया था हमने भी, हम भी रातों को जागे थे, था कोई जिसके पीछे हम नंगे पांव भागे थे!!