Love Shayari

Posted On: 16-08-2020

मिली हैं रूहें तो, रस्मों की बंदिशें क्या हैं… यह जिस्म तो ख़ाक हो जाना है फिर रंजिशें क्या हैं छोटी सी ज़िन्दगी है तो तकरारें किस लिए… रहो एक दूसरे के दिलों में ये दीवारें किस लिए

Posted On: 16-08-2020

किसी को बांध के रखना फितरत नही है मेरी, मैं प्रेम का धागा हूँ मजबूरी की ज़ंजीर नही..

Posted On: 16-08-2020

चेहरे पर तेरे सिर्फ मेरा ही नूर होगा उसके बाद फिर तू न कभी मुझसे दूर होगा जरा सोच के तो देख क्या ख़ुशी मिलेगी जिस पल तेरी मांग में मेरे नाम का सिन्दूर होगा

Posted On: 15-08-2020

कुछ लोगो की मोहब्बत दिल में इस कदर उतर जाती है, जब उन्हें दिल से निकालो तो जान निकल जाती है।

Posted On: 15-08-2020

हमसे एक वादा करो हमे रुलाओगे नही, हालात जो भी हों कभी हमे भुलाओगे नही, अपनी आँखों में छुपा कर रखोगे हमको, और फिर किसी को दिखाओगे नही।

Posted On: 15-08-2020

ये जिंदगी कितनी खूबसूरत है, बस अब आप आइये आपकी ही जरूरत है।

Posted On: 15-08-2020

एहसास के दामन में आंसू गिरा कर देखो, प्यार कितना है कभी हमे आज़मा कर देखो, बिछड़ कर तुमसे क्या होगी दिल की हालत, कभी किसी आईने पर पत्थर गिरा कर देखो!!

Posted On: 14-08-2020

ये तुमसे किसने कहा तुम इश्क का तमाशा करना, अगर मोहब्बत करते हो हमसे, तो बस हल्का सा इशारा करना!!

Posted On: 14-08-2020

इश्क सभी को जीना सीखा देता है, वफ़ा के नाम पर मरना सीखा देता है, इश्क नही किया तो करके देखना, ज़ालिम हर दर्द सहना सिखा देता है।

Posted On: 14-08-2020

क्यूँ दुनिया वाले मोहब्बत को खुदा का दर्ज़ा देते हैं, हमने आज तक नहीं सुना कि खुदा ने बेवफाई की हो..

Posted On: 13-08-2020

सभी के चेहरे में वो बात नहीं होती, थोड़े से अंधेरे से रात नहीं होती, जिंदगी में कुछ लोग बहुत प्यारे होते हैं, क्या करें उन्हीं से हमारी मुलाकात नहीं होती.

Posted On: 11-08-2020

निगाहें तो बस जरिया है इजहार का, जरा मेरे दिल में झांक कर देख..... एक दरिया है प्यार का...

Posted On: 10-08-2020

किनारा मिला जो, किनारा नहीं था... बहाना था कोई, सहारा नहीं था... यही एक दिल जिसको समझते थे अपना, ना जाने था किसका हमारा नहीं था!

Posted On: 10-08-2020

Pen is Red, Ink is blue, that is true, I Love you

Posted On: 09-08-2020

बदलता रहे मौसम समय पर... पर तेरा खयाल महकता रहा, तुमसे मुलाकात होगी ये सोच मन ही मन मैं बहकता रहा...