Romantic Shayari

Posted On: 29-04-2020

जज़्बात बहक जाते हैं जब तुमसे मिलते हैं, अरमान मचल जाते हैं जब तुमसे मिलते हैं, मिल जाते हैं आँखों से आँखें, हाथों से हाथ, दिल से दिल, रूह से रूह जब तुमसे मिलते हैं।

Posted On: 29-04-2020

खुशबू की तरह मेरी हर साँस में, प्यार अपना बसाने का वादा करो, रंग जितने तुम्हारी मोहब्बत के हैं, मेरे दिल में सजाने का वादा करो।

Posted On: 29-04-2020

तुम हसीन हो, गुलाब जैसी हो, बहुत नाज़ुक हो ख़्वाब जैसी हो, होठों से लगाकर पी जाऊं तुम्हे, सर से पाँव तक शराब जैसी हो।

Posted On: 29-04-2020

हम दिलफेक आशिक़ हर काम में कमाल कर दे, जो वादा करे वो पूरा हर हाल में कर दे, क्या जरुरत है जानू को लिपस्टिक लगाने की, हम चूम-चूम के ही होंठ लाल कर दें।

Posted On: 28-04-2020

कुछ दूर हमारे साथ चलो हम दिल की कहानी कह देंगे, समझे ना जिसे तुम आँखों से वो बात जुबानी कह देंगे।

Posted On: 28-04-2020

तुम्हारी ज़ुल्फ़ों के साये में शाम कर लूंगा, सफर इस उम्र का पल में तमाम कर लूंगा।

Posted On: 28-04-2020

​आपसे रोज़ मिलने को दिल चाहता है​​,​ ​कुछ सुनने सुनाने को दिल चाहता है​​,​ ​था आपके मनाने का अंदाज़ ऐसा​​,​ ​कि फिर रूठ जाने को दिल चाहता है​।

Posted On: 28-04-2020

बहके बहके ही अंदाज-ए-बयां होते हैं, आप जब होते हैं तो होश कहाँ होते हैं।

Posted On: 28-04-2020

अदा से देख लो जाता रहे गिला दिल का, बस इक निगाह पे ठहरा है फ़ैसला दिल का।

Posted On: 28-04-2020

जो तेरे गुलाबी लब मेरे लबों को छू जायें, मेरी रूह का मिलन तेरी रूह से हो जाये, ज़माने की साज़िशों से बेपरवाह हो जायें, मेरे ख्वाब कुछ देर तेरी बाहों में सो जायें, मिटा कर फ़ासले हम प्यार में खो जायें, आ कुछ पल के लिये एक-दूजे के हो जायें।

Posted On: 28-04-2020

तेरे हर गम को अपनी रूह में उतार लूँ, ज़िन्दगी अपनी तेरी चाहत में संवार लूँ, मुलाकात हो तुझसे कुछ इस तरह मेरी, सारी उम्र बस एक मुलाकात में गुज़ार लूँ।

Posted On: 28-04-2020

चाहा है तुम्हें अपने अरमान से भी ज्यादा, लगती हो हसीन तुम मुस्कान से भी ज्यादा, मेरी हर धड़कन हर साँस है तुम्हारे लिए, क्या माँगोगे जान मेरी जान से भी ज्यादा।

Posted On: 22-04-2020

जिस नगर भी जाओ किस्से हैं कमबख्त दिल के, कोई ले के रो रहा है कोई दे के रो रहा है।

Posted On: 13-04-2020

💞: जी तो चाहता है हर इक उलझन पर इक चोट रख दूँ तेरी ज़ुल्फ़ें हटाऊँ और तेरी गर्दन पर अपने होंठ रख दूँ💞

Posted On: 09-04-2020

प्यार की कोई हद समझना, मेरे बस की बात नहीं, दिल की बातों को न करना, मेरे बस की बात नहीं, कुछ तो बात है तुझमें तब तो दिल ये तुमपे मरता है, वरना यूँ ही जान गँवाना, मेरे बस की बात नहीं|