Beautiful Shayari

Beautiful Shayari, Beautiful Shayari in Hindi, Beautiful Girl Shayari

Read and write beautiful shayari, beautiful shayari in hindi and beautiful girl shayari on Shayari Books

क्यों घबराता है यारा दुख के होने से, जीवन का आरंभ ही हुआ है रोने से!!

हंसी के रास्ते पर चला करो, खुशियों की महक लिया करो, प्यार से दिलों को छुआ करो, जब आपका दिल उदास हो, तो इस "स्वीट" friendको याद किया करो...

तेरे अधूरे सपनो के जिम्मेदार हैं हम.. बस इतने ही समझदार हैं हम

करें किसका एतवार यहां सब अदाकार ही तो है, और गिला भी किससे करें सब अपने यार ही तो है..!!

इंतजार किया, फिर मैंने आवाज देकर भी देखा, बीता वक्त आया ही नहीं..!!

Posted On: 01-12-2020

Zara Sa Baat Karne Ka Salika Seekh Lo Tum Bhi Waha Tu Lafz Hilati ho Yaha Dil Toot Jate Hain Mohd Raza

Posted On: 15-11-2020

Tere Hone Kaa Guroor Humeshaa Rahaa Mujhme Kahi Naa Kahin Lekin Jab Tu Door Hui Meri Aarzoo Wo Hijar Saath Ban Gayi ....... Rahil Azam

मेरी साँसों के धारा से उभरता हुआ, फनकारी देख आँखों से पर्दा को हटा और अपना तरफदारी देख ऐ सख्स, तू इल्म-ए-उरूज़ देख, मेरी मुहब्बत न देख तुझे है गुरूर खुद पर ज़रा सा तो मेरी कलमकारी देख मुहब्बत में भी क्या मुनाफा का हिसाब करता है कोई तू अन्दर से भिकारी है सख्स, अपनी दुनियादारी देख वो एक है जो इश्क़ को रूमी की इबादत सा करता है में पत्थर दिल उसके क़रीब हूँ, उसकी दिलदारी देख जिन भीड़ में तुझे सांस लेना भी मुहाल हो जाए सो भीड़ में ठहर और नयी पनपती जादूगरी देख आप ही में 'अनंत' आना का तीर दिल के कमान से चला आप ही हो सन्यासी, आप ही संसारी, एहि अदाकारी देख

इस मोड़ पर आ जाएगा हमारा रिश्ता कभी सोचा न था, हम पास तो होंगे पर साथ नहीं, बातें तो होगी पर फिर भी खामोशी ही रहेगी, एक साथ होंगे पर एक नहीं!!

जिंदगी में कभी किसी कि जरूरत मत बनना क्योंकि बनना है तो किसी कि कमी बनो जरूरत हर कोई पुरी कर सकता है पर कमी कोई नहीं पुरी कर सकता है।

जिसकी जैसी नियत उसकी वैसी कहानी, कोई परिंदों के लिए बंदूक, तो कोई परिंदों के लिए पानी रखता है!!

शदीद प्यास थी, फिर भी न छुआ पानी को, मैं देखता रहा दरियाँ, उसकी रवानी को!!

जरूरत से ज्यादा आराम, और हद से ज्यादा प्रेम, इंसान को अपाहिज बना देता है!!

जीवन नर्क बना हुआ है, क्योंकि हम सब प्रेम चाहते हैं, प्रेम देना कोई नहीं चाहता!

हजारो मेहफिल है लाखो मेले है, पर जहा तुम नहीं वाह हम अकेले है