Dard Bhari Shayari

आपके बिन टूटकर बिखर जायेंगे, मिल जायेंगे आप तो गुलशन की तरह खिल जायेंगे, अगर न मिले आप तो जीते जी मर जायेंगे, पा लिया जो आपको तो मर कर भी जी जायेंगे।

Posted On: 17-05-2020

Dekhte dekhte kitne phaasle ho gaye..! Hum na rahe hum, tum bhi ye kya ho gaye..! Na pehchante ho khud ko na humain.. Ae dost aise to na the, ye silsile kya ho gaye..!

वफ़ा का लाज हम वफा से निभायेगें; चाहत के दीप हम आँखों से जलाएंगे; कभी जो गुजरना हो तुम्हें दूसरे रास्तों से; हम फूल बनकर तेरी राहों में बिखर जायेंगे!

हर लड़की को अपनी अदाओं पर गुरूर होता है । पर सिर्फ अदाओं से कोई लडकी हूर नहीं होती। इसलिए लड़कियों को बता दो कि लड़कों से कभी पंगा ना लें। क्योंकि हर लड़का बिना चमक के भी लड़का कोहिनूर होता है।

सपने तो सपने होते हैं ये कब अपने होते हैं सपने में जिसके जितने करीब होते हैं हकीकत में उससे उतने ही दूर होते हैं।

Posted On: 09-05-2020

Wo Rootha Rahe Mujhse Ye Manzoor Hai Lekin. Yaron Use Samjhao Wo Mera Shaher Na Chhode

Posted On: 09-05-2020

Jafa Ki Aag Tham Jaaye Fakhr Toote Kabhi Ajmal. Chale Aana Mere Ho Kar Main Maazi Fir Bhula Doonga

Mujhe Maff Kar Dena Mera Dil Mujhe Maff Kar Dena Mera Dil Pata Nahi mere Wajah se Tune Kitne Aansu 😢 Bhaye Hai I M Sorry My Heart ♥ I Love You My Heart ♥ #SAGAR_R -BOXER🥊✍️

Posted On: 04-05-2020

Tumhein us din dekha, tum bahut khush the..! Socha phir se, samajh aaya is sab ki wajah tum the..! Chaaha hi kab tha tumne humain samajh aaya, Tum to shuru se kisi aur ke khayaalo mai gum the..!

Posted On: 04-05-2020

Har khushi mile tumhe , tum jahaa raho..! Har tamanna ho puri tumhari tum jahaa raho..! Hum to tumhain kuch de nahi sake tumhari nazar main, Kaaynaat ki har cheez de tumhe wo jiske tum saath ho..!

Posted On: 04-05-2020

Tum jo gaye , gayee zindagi.. Hum to pahele hi mar gaye the....

Posted On: 03-05-2020

Jo bhi sochu dekhu wo tum ho..! Har khayaal, Har karm tum hi ho..! Kya karein kaise jiyein tum bin.. Humari saansein, hamari dhadkan tum ho...!

आज उस काग़ज़ पे, ज़िन्दगी की कोई दास्ताँ लिख रहा हूँ, जिस कागज़ को, किसी पेड़ की ज़िन्दगी छीन के, बनाया गया होगा..

उसके ना होने से कुछ भी नहीं बदला मुझ में; बस जहाँ पहले दिल रहता था वहाँ अब सिर्फ दर्द रहता है।

-अलफ़ाज़ ना समझ सके तुम ख़ामोशी क्या समझोगे -हसीं ना देख सके तुम आँशु क्या देखोगे -मेरी जलन महसूस ना कर सके तुम तड़प क्या महसूस करोगे -बातोंको जान ना सके तुम जज़्बात क्या जानोगे -मिलने का जशन मना ना सके तुम जुदाई का मातम क्या मनाओगे रही बात हमारी रही बात हमारी -मासूम सी मुस्कान ना भूल सके हम क़ातिल अदाएं क्या भुलायेंगे -आँखे भुला ना सके तुम्हारी तुम्हे क्या भुलायेंगे -तेरी तस्वीर देखकर बेबस हो जाते है रूबरू मुलाक़ात से धड़कनो को कैसे रोक पाएंगे